Friday, 30 August 2013

तुरपाई

अभी तो बस इब्तदा है मियाँ,
और इश्क़ में उबकाई आती है !
कल को दिल भी छलनी होगा, 
तुम्हें 'तुरपाई' आती है ?

No comments:

Post a Comment